Home Business आइए देखते हैं कि पिछले साल (2017) देश में कौन से कारों की सबसे ज्यादा बिक्री हुई

आइए देखते हैं कि पिछले साल (2017) देश में कौन से कारों की सबसे ज्यादा बिक्री हुई

10 second read
0
0
330

नई दिल्ली। भारत का वाहन उद्योग दुनिया में सबसे बड़ा है, जिसकी जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) में 7.1 फीसदी हिस्सेदारी है। बढ़ते मध्यम वर्ग और युवाओं की बढ़ती आबादी के कारण यह उद्योग तेजी से बढ़ रहा है और पिछले साल देश में लगभग 2.5 करोड़ वाहनों (पीवी) की बिक्री हुई, जिसमें 30,46,727 यात्री वाहनों (कार, वैन, एसयूवी, जीप) की बिक्री हुई।

इसके अलावा भारत वाहनों का प्रमुख निर्यातक है, जिसमें अच्छी वृद्धि होने की उम्मीद है। देश के वाहन निर्यात की वृद्धि दर साल-दर-साल आधार पर अप्रैल-दिसंबर (2017) अवधि में 13.01 फीसदी रही है।

तो आइए देखते हैं कि पिछले साल (2017) देश में कौन से कारों की सबसे ज्यादा बिक्री हुई।

देश में सबसे ज्यादा मारुति सुजुकी की गाडिय़ां बिकती हैं और हरेक 10 कारों में से 7 कारें इसी कंपनी की बिकती हैं। साल 2017 में सबसे ज्यादा बिकनेवाली कार मारुति सुजुकी ऑल्टो रही। पिछले साल कुल 2,57,732 ऑल्टो कारों की बिक्री हुई, जो कि औसतन 21,478 वाहन प्रति माह और 716 कारें रोजाना है। हालांकि जून में सबसे कम 14,856 ऑल्टो कारों की बिक्री हुई है। इसकी बिक्री में पिछले साल साल-दर-साल आधार पर 13 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया।

देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में दूसरे नंबर पर पिछले साल मारुति सुजुकी की ही स्विफ्ट डिजायर कार रही, जिसकी कुल 2,25,043 इकाइयों की बिक्री हुई। कंपनी ने मई में डिजायर का नया संस्करण लांच किया था, जिसे ग्राहकों ने हाथों हाथ लिया और लांच होने के पहले दो महीनों में ही क्रमश: 30,934 और 34,305 स्विफ्ट डिजायर कारों की बिक्री हुई। पिछले साल औसतन 18754 स्विफ्ट डिजायर की हर महीने बिक्री हुई।

देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में तीसरे नंबर पर भी मारुति सुुजुकी की कार बलेनो रही। साल 2017 में कुल 1,77,209 बलेनो कार की बिक्री हुई। साल 2016 में कुल 97,580 बलेनो कार की बिक्री हुई और एक साल बाद इसमें 81 फीसदी की विशाल वृद्धि दर देखी गई। एक साल पहले की तुलना 2017 में बलेनो की बिक्री लगभग दोगुनी बढ़ गई। पिछले साल औसतन हर महीने 14,767 बलेनो कार की बिक्री हुई।

देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में चौथे नंबर पर मारुति सुजुकी की स्विफ्ट रही। साल 2017 में कुल 1,67,371 स्विफ्ट कारों की बिक्री हुई, जोकि औसतन 13,948 कारों की हर महीने बिक्री रही। इस कार की इतनी मांग है कि बाजार में नया मॉडल लांच होने के बावजूद दिसंबर तक पुराने मॉडल का उत्पादन होता रहा।

सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में पांचवे नंबर पर भी मारुति सुजुकी की ही वैगन आर रही। 2017 में कुल 1,66,814 वैगन आर कारों की बिक्री हुई। यह कार कई साल से मध्य वर्ग की पसंदीदा कार है और दिल्ली, मुबंई, कोलकाता, चेन्नई जैसे महानगरों की सडक़ों पर शायद सबसे ज्यादा वैगन आर कारें ही दिखती हैं। मारुति सुजुकी ने साल 2017 में औसतन हर महीने 14,000 वैगन आर की बिक्री की। यह एक भरोसेमंद, कुशल और कम रखरखाव वाली कार है, जिसने सितंबर (2017) में 20 लाख कारों की बिक्री का आंकड़ा पार कर लिया।

कंपनी मार्च (2018) में वैगन आर का नया संस्करण लांच करने जा रही है जो सुजुकी के नए हार्टेक प्लेटफार्म पर आधारित है। इस प्लेटफार्म पर बनने वाली कारों का वजन कम होता है तथा मजबूती और ईंधन दक्षता अधिक होती है। चर्चा है कि साल 2018 में मारुति सुजुकी इस कार को डीजल इंजन के साथ भी बाजार में उतारेगी।

देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में छठे पर दक्षिण कोरियाई कंपनी हुंडई की ग्रैंड आई10 रही। पिछले साल कुल 1,54,787 ग्रैंड आई10 की बिक्री हुई थी। कोरियाई कारें अपने प्रीमियम इंटीरियर और फिट और फिनिश के लिए जानी जाती हैं। पिछले साल हुंडई भारतीय बाजार में हर माह औसतन 12,900 ग्रैंड आई10 की बिक्री करने में सफल रही। हुंडई ने फरवरी (2017) में आई10 का नया संस्करण लांच किया था, जो ज्यादा क्षमता की डीजल इंजन के साथ था।

सबसे ज्यादा बिकनेवाली कारों में सातवें नंबर मारुति सुजुकी की विटारा ब्रेजा रही। कंपनी ने पिछले साल घरेलू बाजार में कुल 1,40,945 विटारा ब्रेजा की बिक्री की। यह एक कार की बजाए स्पोट्र्स कार से मिलती-जुलती क्रासओवर गाड़ी है। पिछले साल हर माह औसतन 11,745 विटारा ब्रेजा की बिक्री हुई। यह भारतीय बाजार में बिकने वाली सबसे ज्यादा ईंधन कुशल क्रासओवर गाडिय़ों में से एक है। इसकी बिक्री में सबसे ज्यादा योगदान मारुति सुजुकी की सबसे बेहतरीन और किफायती ऑफ्टर सेल्स सर्विस है, जिस पर लोगों का भरोसा है।

साल 2017 में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में 8वें नंबर पर हुंडई की एलीट आई20 रही। यह एक प्रीमियम हैचबैक है और पिछले साल कुल 1,34,103 हुंडई एलीट आई20 की बिक्री हुई। कंपनी ने 2017 में इसे नए ड्यूअल टोन रंगों में लांच किया, साथ ही कई नए उपकरण भी जोड़े। 2017 में औसतन हर माह 11,175 एलीट आई20 की बिक्री हुई। साल 2018 में कंपनी एलीट आई20 का नया संस्करण बाजार में उतारने वाली है, जो कई नए फीचर्स से लैस होगी।

सबसे अधिक बिकने वाली कारों में नौवें स्थान पर हुंडई की क्रेटा रही, जो एक क्रासओवर गाड़ी है। साल 2017 में 1,05,484 हुंडई क्रेटा की बिक्री हुई। दक्षिण कोरियाई कंपनी के इस वाहन को भारत में क्रासओवर खंड को पुनर्परिभाषित किया है और अन्य कार निर्माताओं के लिए एक बेंचमार्क स्थापित किया है। पूरे साल में किसी भी महीने में क्रेटा की बिक्री का आंकड़ा 6,500 से कम नहीं हुआ और औसतन हर माह 8,790 क्रेटा की बिक्री हुई। करीब 10 लाख रुपये के मूल्य में मिलने वाली यह बेहद प्रभावशाली एसयूवी है।

सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में 10वें नंबर पर एक बार फिर मारुति सुजुकी की हैचबैक कार सेलेरियो रही है। मारुति की यह सातवीं गाड़ी है, जिसने साल 2017 में 1,00,000 से ज्यादा की बिक्री का आंकड़ा पार किया है। पिछले साल कुल 1,00,860 सेलेरियो की बिक्री हुई। पिछले साल अक्टूबर में स्विफ्ट से भी ज्यादा सेलेरियो की बिक्री हुई थी। साल 2017 में औसतन हर माह 8,405 सेलेरियो की बिक्री हुई, जो औसतन 280 वाहन रोजाना है। पिछले साल की आखिरी तिमाही में कंपनी ने इसका नया कॉस्मेटिक अपडेट संस्करण सेलेरियो एक्स लांच किया था, जिसे लोगों ने काफी पसंद किया।

इस सूची में आखिरी और 11 वें स्थान पर रेनॉ की क्विड रही, जो बेहद कम अंतर से सेलेरियो से पिछड़ गई। साल 2017 में कुल 92,440 रेनॉ क्विड हैचबैक की बिक्री हुई। पिछले साल पांच बार अलग-अलग महीनों में बिक्री में क्विड सेलेरियो से आगे रही थी, लेकिन पूरे साल की बिक्री में पिछड़ कर यह 11वें नंबर पर आ गई। पिछले साल औसतन 7,703 क्विड कार की बिक्री हर महीने हुई।

इस प्रकार भारतीय कार बाजार में मारुति सुजुकी सबसे आगे है और हर 10 कारों में से 7 कारें मारुति सुजुकी की हैं। इस सूची की शीर्ष पांच सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में भारतीय-जापानी कंपनी मारुति सुजुकी के ही वाहन हैं।

Load More Related Articles
Load More By Jugal Swami
Load More In Business

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

50 किलो खराब मावा नष्ट करवाया

Share this on WhatsAppजयपुर। प्रदेशभर में मिलावटखोरों के खिलाफ जारी ‘शुद्ध के लिये युद्ध‘ …