राजस्थान, पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों में बरसात व ओलावृष्टि की आशंका

0
14
राजस्थान, पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों में बरसात व ओलावृष्टि की आशंका

राजस्थान, पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों में बरसात व ओलावृष्टि की आशंका

नई दिल्ली.भारत के उत्तरी मैदानी राज्यों जैसे पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान के अधिकांश इलाकों सहित मध्य प्रदेश पर भी पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण मौसम में बदलाव होने की संभावना है.हालांकि 17 अप्रैल के बाद इस पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के साथ ही इन मौसमी गतिविधियों में कमी देखने को मिल सकती है.

देशभर की नौकरियों की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें-

देखा लाए तो मार्च का महीना खत्म होने के साथ ही पश्चिमी विक्षोभ, ऊपरी अक्षांशों से होकर पूरब की ओर जाने लगते हैं.जिससे अप्रैल महीने में उत्तर भारत में पहाड़ों से लेकर मैदानी राज्यों तक मौसमी गतिविधियां कम हो जाती हैं.लेकिन इस साल भारत के उत्तरी भागों पर एक के बाद एक कई पश्चिमी विक्षोभ देखने को मिले.जिससे मौसमी गतिविधियां भी रुक-रुक कर जारी हैं.

मौसम की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें-

मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर के साथ पहाड़ों पर और आसपास के राज्यों में 16 व 17 अप्रैल को आंधी, बारिश और ओलावृष्टि के आसार हैं.हिमालय में नया पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है.इसकी वजह से 15 की शाम से ही मौसम में बदलाव दिखाई देगा और अगले दो दिन दिल्ली, यूपी, उत्तराखंड, हिमाचल, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा व जम्मू-कश्मीर में आंधी, बारिश और ओलावृष्टि की आशंका है.

देशभर की खबरों के लिए यहां क्लिक करें-

मौसम विभाग के अनुसार बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर, चूरू, हनुमानगढ़, बीकानेर, नागौर, अजमेर, अलवर, सीकर, जयपुर, दौसा, भरतपुर और करौली में 15 और 16 अप्रैल को तेज हवाओं के साथ साथ कई स्थानों पर बिजली गिरने और बूंदाबांदी हो सकती है. मौसम विभाग के अनुसार अभी जैसलमेर से लेकर मध्यप्रदेश तक ऊपरी चक्रवात और कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है.इस कारण धूल भरी आंधियां चलने के साथ साथ कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है.

अपने गांव शहर देश दुनिया की पल पल की ताजा खबरों से उपडेट रहने के लिए अपने न्यूज ओपिनियन की एप्प को नीचे दिए इस लिंक से डाऊनलोड करें। 

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.newsopinion.weboo

Rainfall and hailstorm fear in many states including Rajasthan, Punjab and Haryana

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here