Home Rajasthan Jaipur फेक न्यूज, पेड न्यूज पर रहेगी पैनी नजर

फेक न्यूज, पेड न्यूज पर रहेगी पैनी नजर

3 min read
0
0
43
अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने डीआईपीआर के अधिकारियों के साथ की अहम बैठक
जयपुर। अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. जोगाराम ने कहा कि लोकसभा आम चुनाव-2019 में प्रिंट-इलेक्ट्रोनिक और सोशल मीडिया पर पेड न्यूज-फेक न्यूज, संदेहास्पद विज्ञापन और खबरों पर कड़ी नजर रखी जाएगी. इसके लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के साथ समन्वय कर  कई कमेटियों का गठन भी कर दिया गया है.
डॉ. जोगाराम गुरुवार को लोकसभा आम चुनाव-2019 के लिए गठित मीडिया प्रकोष्ठ के अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान पेड न्यूज एवं फेक न्यूज की मॉनीटिरिंग की जाएगी. उन्होंने उम्मीदवारों द्वारा प्रकाशित और प्रसारित विज्ञापनों से पूर्व प्रमाणीकरण, पेड न्यूज और फेक न्यूज को पहचानने और उससे जुड़े कानूनों के बारे में भी विस्तार से बताया.

राजस्थान की ओर खबरों के लिए -यहां क्लिक करें

उन्होंने कहा कि किसी भी राजनीतिक दल या उम्मीदवार को इलेक्ट्रोनिक मीडिया में विज्ञापन देने के लिए प्री-सर्टिफिकेशन अनिवार्य है.प्रिंट मीडिया में विज्ञापन देने के लिए प्री-सर्टिफिकेशन अनिवार्य नहीं है, पर समाचार पत्रों के ई-पेपर में प्रकाशित किए जाने वाले विज्ञापनों के लिए प्री-सर्टिफिकेशन अनिवार्य हैं.
अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि प्रदेश में स्वतंत्र-निष्पक्ष-शांतिपूर्ण और समावेशी मतदान कराना विभाग की जिम्मेदारी है. इसी कड़ी में प्रदेश के सभी 33 जिलों में जिला निर्वाचन अधिकारी की अध्यक्षता में एमसीएमसी कमेटी का गठन किया जा रहा है. कमेटी का काम चुनाव की घोषणा के साथ ही शुरू हो गया है. कमेटी उम्मीदवारों द्वारा इलेक्ट्रोनिक, पिं्रट और सोशल मीडिया के जरिए प्रसारित समाचारों पर कड़ी निगरानी रखेगी.इस दौरान चुनाव विभाग के ओएसडी श्री हरिशंकर गोयल ने अधिकारियों को फेक न्यूज, पेड न्यूज, एवं आदर्श आचार संहिता की पालना के लिए विभिन्न प्रावधानों की विस्तृत जानकारी दी.

देश भर की नौकरियों के लिए यहां क्लिक करें-http://www.jobguru.today/

अतिरिक्त निदेशक (सूजस) श्री पीपी त्रिपाठी ने कहा कि निर्वाचन विभाग के निर्देशानुसार विभाग स्तर पर विभिन्न कमेटियों का गठन कर दिया गया है तथा सभी कमेटियों ने कार्य भी आरंभ कर दिया है.
बैठक में संयुक्त निदेशक श्री अरुण जोशी, उप निदेशक सुश्री नर्मदा इंदौरिया, श्री मनमोहन हर्ष, श्री श्रवण मेहरड़ा सहित जनसंपर्क विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे.

Fake News, Paid News-

Jaipur. Additional Chief Electoral Officer Dr. Jogaram said that in the Lok Sabha General Election-2009, paid news-faked news, suspicious advertisements and news on print-electronic and social media will be closely monitored. Several committees have been formed in coordination with the Information and Public Relations Department for this. Jogaram was addressing the meeting of officials of the media wing constituted for the general election-2013 on Thursday. He said that monitoring of Paid News and Fake News will be monitored during the elections. He also explained the authenticity, paid news and Fake News before the advertisements published by the candidates and explained in detail the laws related to it.

He said that in order to advertise electronic political media to any political party or candidate, pre-certification mandatory. Pre-certification is not compulsory for advertisements in print media, but pre-certification is mandatory for advertisements to be published in e-paper of newspapers. Additional Chief Electoral Officer said that in the state, free-fair-peaceful and Inclusive voting is the responsibility of the department. In this connection, the MCMC Committee is being constituted under the chairmanship of District Election Officer in all the 33 districts of the state. The work of the committee has started with the election announcement. The committee will closely monitor the news circulated by the candidates through electronic, print and social media. Meanwhile, OSD of the Election Department Mr. Harishankar Goyal gave detailed information of various provisions for the cadre of Fake News, Paid News, and Model Code of Conduct.

Additional Director (Sujas) Mr. PP Tripathi said that according to the instructions of the Election Department, N committees have been formed and all committees are served also started the meeting attended by Joint Director Arun Joshi, deputy director of the official public relations department, including Ms. Narmada Induria, Mr. Manmohan Harsh, Mr. auditory Mehrdha.

Load More Related Articles
Load More By Jugal Swami
Load More In Jaipur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

50 किलो खराब मावा नष्ट करवाया

Share this on WhatsAppजयपुर। प्रदेशभर में मिलावटखोरों के खिलाफ जारी ‘शुद्ध के लिये युद्ध‘ …