सीमा से लगते पडौसी राज्यों के जिले शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव के लिए करें सहयोग- संभागीय आयुक्त

0
7
संभागीय आयुक्त श्री हनुमान सहाय मीणा ने इंटर स्टेट बैठक में दिए दिशा निर्देश
पड़ौसी राज्यों से सटे जिलों में भी धारा 144 लगाने और नाके स्थापित करने के दिए निर्देश
पंजाब और हरियाणा से पहले कॉर्डिनेशन अच्छा रहा है चुनाव में ऐसी ही उम्मीद है- दिनेश एमएन
आईजी बीकानेर श्री दिनेश एमएन ने हार्डकोर अपराधियों को पाबंद करने के दिए निर्देश
हनुमानगढ़, 26 अक्टूबर। विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर संभागीय आयुक्त श्री हनुमान सहाय मीणा की अध्यक्षता में शुक्रवार को हनुमानगढ़ जिला कलेक्ट्रेट सभागार में इंटर स्टेट बैठक का आयोजन किया गया जिसमें बीकानेर संभाग के जिलों के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ सा पड़ौसी राज्यों के जिलों के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हुए। बैठक की अध्यक्षता करते हुए संभागीय आयुक्त ने  पड़ौसी राज्यों के जिलों में भी धारा 144 लगाने, वारंटियों को जल्द गिरफ्तार करने, नाका लगाने ,मादक पदार्थों और हथियारों की तस्करी रोकने, समेत असमाजिक तत्वों पर लगाम लगाने के निर्देश दिए। आयुक्त ने कहा कि पडौसी राज्य हरियाणा के भिवानी में धारा 144 लगाई जा चुकी है उसी तरह अन्य पड़ौसी जिलों में धारा 144 लगाने की कार्रवाई करें।वारंटियों की जो लिस्ट राजस्थान ने हरियाणा और पंजाब पुलिस को दी है उस पर कार्रवाई करें। सीमावर्ती जिलों में आपसी तालमेल से मुख्य रास्तों के साथ साथ चोर रास्तों पर भी नाके लगाएं और नाकों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाएं। गश्त 24 घंटे हो ताकि कोई असामाजिक तत्व एक स्टेट से दूसरे स्टेट में जा ना सके। मादक पदार्थों और हथियारों की तस्करी पर पूरी तरह से लगाम लगाएं ताकि राजस्थान में निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंगे से चुनाव संपन्न करवाए जा सकें।
 बैठक में बीकानेर रेंज आईजी श्री दिनेश एमएन ने कहा कि हार्डकोर अपराधियों को पकड़ने में राजस्थान के पड़ौसी राज्यों पंजाब और हरियाणा पुलिस का पहले भी बहुत अच्छा सहयोग रहा है और हम यही उम्मीद करते हैं कि विधानसभा चुनाव में भी ऐसा ही सहयोग मिलेगा। आईजी ने कहा कि हार्डकोर अपराधियों को पाबंद करें। जो वारंटियों की लिस्ट राजस्थान पुलिस ने दी है उन्हें हरियाणा और पंजाब पुलिस गिरफ्तार करे और राजस्थान को जो लिस्ट वारंटियों की मिली है उन्हें राजस्थान पुलिस जल्द गिरफ्तार करेगी। एसपी हनुमानगढ़ श्री अनिल कयाल ने बताया कि  जिले की 220 किलोमीटर की सीमा पंजाब से और 230 किलोमीटर की सीमा हरियाणा से मिलती है। हनुमानगढ़ जिले के 42 बूथ ऐसे हैं जो सीमा पर स्थित है। स्टेंडिंग वारंटियों की जो लिस्ट जारी की है उनमें से 94 हरियाणा के और 96 पंजाब के हैं। 120 हरियाणा के वांछित हैं जिनकी गिरफ्तारी चुनाव से पहले की जाए।  हनुमानगढ़ जिले में कुल 21 चौक पोस्ट पड़ौसी राज्यों की सीमा पर स्थापित की गई है जिन पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की प्रक्रिया चल रही है। एसपी फाजिल्का जसविंदर सिंह  ने बताया कि पंजाब साइड में जो नाके लगाए गए हैं उन पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। स्टेंडिग वारंटी को पकड़ा जा रहा है।
 चुरू कलक्टर श्री मुक्तानंद अग्रवाल ने बताया कि पड़ौसी राज्यों से सटी सीमा पर कुल 28 नाके लगाने की जगह चिन्हित की गई है। वहां सीसीटीवी या वीडियोग्राफी की व्यवस्था की जा रही है। जिले के कुल 46 पोलिंग बूथ सीमावर्ती इलाकों में है। इन इलाकों में शराब की तस्करी ज्यादा होती है जिस पर पूरी तरह से लगाम कसी जा चुकी है। हरियाणा के साथ केवल शराब को लेकर ही दिक्कत है भिवानी जिले से पूरा सपोर्ट मिले तो हम अपराधियों पर पूरी तरह लगाम लगा देंगे। एसीप चूरू ने कहा कि वैसे तो हम सभी अपराधिक तत्वों पर लगाम लगा रहे हैं लेकिन अगर कहीं पोलिटिकल मर्डर हो जाता है तो स्थिति दिक्कत देने वाली होगी। लिहाजा हरियाणा इसको लेकर पूरा सपोर्ट करे ताकि अपराधिक तत्वों पर लगाम हम लगा सकें।  श्रीगंगानगर एडीएश्नल एसपी श्री सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि जिले के 4 थाना क्षेत्र पड़ौसी राज्यों से मिलते हैं कुल 53 किलोमीटर की सीमा पड़ौसी राज्यों से लगती है। कुल 24 रास्ते कच्चे और पक्के इन राज्यों में जाते हैं जिनमें 6 मुख्य रास्ते हैं उनमें से 3 पर पहले से नाके लगे हुए हैं बाकि पर भी नाके लगा दिए जाएंगे।  बैठक में डीवाईएसपी सिरसा ने 4 पुलिस स्टेशन के क्षेत्र राजस्थान से लगने और सीमावर्ती क्षेत्र में नाके लगाकर सीसीटीवी लगे होने की बात कही।  सिरसा की ओर 15 चेकपोस्ट लगे होने की जानकारी दी। आदमपुर में 5 नाके, भिवानी में 1 नाका लगाने की जानकारी दी। सिरसा एसडीएम ने बताया कि कुल 33 गांव राजस्थान से लगते हैं। सीमा क्षेत्र पर पूरी निगरानी रखी जा रही है। आखिर में हनुमानगढ़ कलक्टर श्री दिनेश चंद जैन ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए दोनों राज्यो के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से सहयोग करने और हनुमानगढ की ओर पूरा सहयोग मिलने की बात कहते हुए बैठक समाप्त की गई।
 बैठक में संभागीय आयुक्त श्री हनुमान सहाय मीणा, आईजी श्री दिनेश एमएन, कलक्टर हनुमानगढ़ श्री दिनेश चंद जैन, कलक्टर चूरू श्री मुक्तानंद अग्रवाल, फाजिल्का कलक्टर श्री मनप्रीत सिंह, एसपी हनुमानगढ़ श्री अनिल कयाल, एसपी चूरू श्री राममूर्ति जोशी, श्रीगंगानगर एडीएम श्री गोपाल राम बिरदा और  एडीश्नल एसपी श्री सुरेन्द्र सिंह, हनुमानगढ़ एडीएम श्री प्रभाती लाल जाट, सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार,एडीएम नोहर डॉ हरितिमा, एडीश्नल एसपी श्री हरीराम चौधरी, फतेहाबाद के एसडीएम श्री सतबीर सिंह और डीवाईएसपी श्री उम्मेद सिंह, सिवानी एसडीएम श्री सुरेश कुमार और डीवाईएसपी श्री संजय कुमार,सिरसा के डीवाईएसपी श्री रविन्द्र कुमार, हिसार डीवाईएसपी श्री अमरजीत कटारा, हनुमानगढ़ जिले के सभी एसडीएम समेत अन्य पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी शामिल थे।
———————–

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here