पीलीबंगा -मृत मादा हिरण व शावक का हुआ अंतिम संस्कार

0
39
पीलीबंगा                                                                               लाल बहादुर भाखर
पीलीबंगा उपखंड क्षेत्र ग्राम पंचायत गांव लिखमीसर की रोही चक 5 एल के एस में सोमवार शाम को हुए शिकार में बरामद मादा हिरण का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार बुधवार को किया गया। पोस्टमार्टम में मादा हिरण के दो जगह गोली के निशान मिले तथा मादा हिरण के गर्भ में पल रहे करीबन 4 माह के शावक को मृत अवस्था मे पाया गया । जिनका लिखमीसर स्तिथ श्मशान भूमि में मौका स्थल पर  बिश्नोई रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया गया ।
मृत वन्य जीव मादा हिरण का पोस्टमार्टम करने के लिए लिखमीसर पशुचिकित्सालय प्रभारी डॉक्टर शैलेंद्र कुलड़िया  , पीलीबंगा पशुचिकित्सालय प्रभारी डॉक्टर हंसराज चौहान , गोलूवाला पशुचिकित्सालय प्रभारी डॉक्टर सुभाष स्वामी की टीम ने लिखमीसर शमशान भूमि में पोस्टमार्टम किया । पोस्टमार्टम में मादा हिरण के पैर व पीठे पर दो जगह गोली लगने के निशान मिलें जो शरीर आर पार  हुए मिलें तथा मादा हिरण के पेट मे करीबन 4 माह का पल रहा शावक मृत अवस्था में मिला । दोनों मृत वन्य जीवों का पोस्टमार्टम के बाद शमशान भूमि में गड्ढा खोद कर अंतिम संस्कार कर दिया गया । इस अवसर पर वन्य जीव प्रेमी सुशील डेलू , धर्मवीर ज्याणी , आत्माराम खीचड़ रामा , रविन्द्र गोदारा , पवन खीचड़ , सुंदरपाल वर्मा  इत्यादि अन्य वन्य जीव प्रेमीयों ने अंतिम संस्कार में भाग लिया । इस अवसर पर वनविभाग की टीम के  प्रभारी अशोक उदय को सुशील डेलू व धर्मवीर ज्याणी ने लिखित में प्रार्थना पत्र देकर शिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गई । इसके उपरांत  वनविभाग की टीम ने घटना स्थल 5 एल के एस का मौका मुआयना किया । तथा शिकारीयों की तलाश में रेड डाली ।
काबिले गौर है कि सोमवार को रोही 5 एल के एस  में गोली से घायल मादा हिरण बरामद हुआ । वनविभाग को सूचनाएं दी गयी लेकिन मंगलवार को 11 बजे तक कोई वन विभाग कर्मचारी अधिकारी नहीं पहुंचने से आक्रोशित वन्य जीव प्रेमी ग्रामीणों ने लिखमीसर बस अड्डे के पास पीलीबंगा कैंचियां मार्ग पर मृत हिरण के शव के साथ चक्काजाम कर दिया गया । जो करीबन 7 घण्टे बाद वनविभाग के सहायक वन संरक्षक राजीव गुप्ता , पीलीबंगा तहसीलदार आदूराम  व पीलीबंगा पुलिस थाने के द्वितीय प्रभारी सुशील खत्री  , जीव रक्षा के प्रदेशमहामंत्री अनिल बिश्नोई , महावीर सींवर , निशांत सीगड़ , प्रवीण , सुशील बिश्नोई , धर्मवीर ज्याणी , रामगोपाल , इन्द्र सुपर के मध्य वार्ता हुई जिसमें गत माह हुए नील गाय शिकार के लापरवाही करने वाले वनाधिकारी होशयार सिंह के खिलाफ कार्यवाही करने का सहायक वन संरक्षक गुप्ता ने लिखित में देने एवं आरोपी शिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने व घायल वन्य जीव की सूचना पर तत्काल स्टाफ पहुँचने का विश्वास दिलाने पर धरना व चक्कजाम खुलवा कर वाहनों का आवागमन चालू किया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here